पृथ्वी व बुध के बीच की लड़ाई बूम बूम शकालाका

बूम बूम शकालाका
बूम बूम शकालाका

बूम बूम शकालाका
बूम बूम शकालाका
पहली 3डी चाइल्ड हिंदी फिल्म बूम बूम शकालाका का शूटिंग पिछले दिनों तलाश्री के मंत्रा रिसार्ट में धूम-धाम के साथ शुरु हुई. आज बच्चों के लिए फिल्में बननी बंदप्राय सी हो गई हैं, वैसे में निर्माता सैम वर्मा, लेखक-निर्देशक धर्मेन्द्र राज, लेखक ‘बूम-बूम शकालाका’ का निर्माण कर रहे है जो बच्चों के साथ-साथ बड़ों का भी मनोरंजन करेगी. ‘राईजिंग स्टार प्रोडक्शन्स’ की फिल्म ‘बूम-बूम शकालाका’ आम आदमी के अतृप्त मन की कहानी भी सामने लाएगी। आज इंसान की आवश्यकताएं बिना ओर-छोर के बढ़ रही हैं. ऐसे में यदि कोई पूरी दुनिया पर अपना हक जमाने की कोशिश करे तो क्या होगा ? फिल्म में तीन बच्चे, बंकू, गीली और झुनझुन हैं. मार्कोस, आर्टिन और थोमस के साथ मार्स ग्रह पर रहते हैं. कुंग्रा,जेनिफर, ब्रिकोल ऐसे नकारात्मक चरित्र हैं जो पृथ्वी पर कब्जा करने की घृृणित सोच रखते है.

निर्देशक धर्मेन्द्र राज ने एक अलग सब्जेक्ट पर 3 डी फिल्म बनाने की बात सोची है, जो काबिले तारीफ है। फिल्म के सह-निर्माता मिस्टर खान ने इस अवसर पर तमाम कलाकारों, बच्चों के साथ फिल्म की पूरी टीम को इंज्वाय करते हुए शूटिंग करते हुए दिखे. इस फिल्म के एग्ज्यूक्टिव प्रोड्यूसर विक्की सोलंकी और क्रिएटिव निर्देशक राहुल सिंह हैं। एलियंस पर आधारित इस फिल्म में दिखाया जायेगा कि पावर मिलना और पावर का सदुपयोग करना, दोनों दो अलग-अलग पहलू हैं। पावर मिलने के बाद भी पावर का दुरुपयोग न करना, उसका सही दिशा में सही सदुपयोग करना ही सफलता की निशानी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 − 10 =