गंगा प्रसाद ‘अरुण’ जी के लिखल भोजपुरी गीत संग्रह हहरत हियरा

0
100
गंगा प्रसाद 'अरुण' जी के लिखल भोजपुरी गीत संग्रह हहरत हियरा
गंगा प्रसाद 'अरुण' जी के लिखल भोजपुरी गीत संग्रह हहरत हियरा

गंगा प्रसाद ‘अरुण’ जी के ‘आपन बात’

ली, हमार पहिला प्रयास रउरा सभे के सामने बा। संगी साथी लोग के आग्रह अनुग्रह से एह गीत संग्रह के रउरा सभे के सामने राखत एगो अजबे आनंद के अनुभव कर रहल बानी -एगो संकोच के भाव भी बा मन में। आजु, जब भोजपुरी साहित्य में सभ विद्या पर साहित्य सृजन तेज़ी से हो रहल बा, अभिजात गीतन के भी कमी नइखे, तब आपन टूटल फुटल भाषा में लिखल ई कुछ गीत संकोच स्वाभविक बा।

भोजपुरी गीत संग्रह हहरत हियरा डाउनलोड करे के खातिर क्लिक करीं

>> भोजपुरी के आउरी किताब पढ़े खातिर क्लिक करीं

एह पोस्ट पऽ रउरा टिप्पणी के इंतजार बा।

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × three =