सीडी कांड के बोल्ड दृश्यों को लेकर सेंसर बोर्ड और निर्माता आमने सामने

0
335

मनोरंजन मैनिया एंड राधिका फिल्म्स विजनीटेक प्रा. लि. क्रियेशंस कृत इम्तियाज पटेल द्वारा निर्देशित फिल्म ‘‘सीडी कांड’’ सेंसर बोर्ड में जाकर उलझ गयी है। बोर्ड ने फिल्म्स से दर्जन भर बोल्ड दृश्यों को निकालने की अनुशंसा की है। लेकिन निर्देशक इम्तियाज पटेल सेंसर बोर्ड के सदस्यों के इस फरमान को सिरे से खारिज करते हुए रिवाइजिंग कमेटी में अपील करने की तैयारी में हैं। इम्तियाज पटेल का कहना है कि बोर्ड द्वारा लिया गया निर्णय दुराग्रह से प्रेरित लगता है। बलात्कार या शरीरिक शोषण को मुद्दा बनाकर बनायी गयी फिल्म में बोल्ड दृश्य विषय वस्तु का आवश्यक अंग होते हैं। इसलिये इन दृश्यों पर आपत्ति उठाना सही निर्णय नहीं है। हां, इसे ‘ए’ सर्टीफिकेट ही मिलेगा, यह हमें भी पता है और ‘ए’ स्वीकार है। यह फिल्म एक राजनेता और एक स्त्री के बीच के आपसी संबंधों और उसके दुखद परिणाम का चित्रण करती है। यह एक सत्य घटना से अनुप्राणित है। इस फिल्म के मुख्य कलाकार हैं अनुया भागवत, समर्थ चतुर्वेदी, जय कपाडि़या और अनारा गुप्ता। फिल्म के निर्माता इम्तियाज पटेल और अजय जी. शाह हैं। इसमंे इकबाल दरबार का संगीत है, यूनुस पटेल एक्जीक्यूटिव प्रोड्यूसर और नरेन ए. गेडिया कैमरामैन हैं।

सीडी कांड के बोल्ड दृश्यों को लेकर सेंसर बोर्ड और निर्माता आमने सामने

एह पोस्ट पऽ रउरा टिप्पणी के इंतजार बा।

five × two =