भोजपुरी सिनेमा में माइलस्‍टोन बनेगी भोजपुरी फिल्म मुकद्दर : तिलोक कोठारी

0
72

भोजपुरी फिल्म मुकद्दर के प्रस्‍तुतकर्ता सह शालीमार प्रोडक्शन लिमिटेड के ओनर तिलोक कोठारी ने दावा किया कि यह फिल्‍म भोजपुरी सिनेमा इंडस्‍ट्री के इतिहास में माइलस्‍टोन बनेगी। फिल्‍म महापर्व छठ के मौके पर बिहार और झारखंड के सिनेमाघरों में रिलीज हो चुकी है, जबकि 17 नवंबर से मुंबई में भी रिलीज होगी। मगर अभी तक फिल्‍म के प्रदर्शन पर बात करते हुए उन्‍होंने कहा कि भोजपुरी फिल्म मुकद्दर काफी अच्‍छा कर रही है।

उम्‍मीद से कहीं ज्‍यादा लोगों ने प्‍यार दिया है, इसके लिए सबका आभार। हम लगातार बिहार में ग्राउंड जीरो से लोगों के संपर्क में हैं, जिनका कहना है कि इस‍ तरह की फिल्‍में भोजपुरी सिनेमा में कम ही बनती है। बहुत दिनों बाद काफी अच्‍छी फिल्‍म आई है, जो दर्शकों के दिल में बस जाय।

तिलोक कोठारी फिल्‍म के तकनीकी पक्ष को लेकर भी दावा करते हैं कि अब तक कोई भी भोजपुरी फिल्‍म तकनीकी रूप से इतना स्‍ट्रांग नहीं बनी, जितना ‘मुकद्दर’ है। इसमें तृषा स्‍टूडियो का काफी अहम रोल रहा है, जहां ‘मुकद्दर’ के पोस्‍ट प्रोडक्‍शन का काम हुआ। हमने तृषा स्‍टूडियो बेहतर प्रोडक्‍शन के लिए ही बनाया था। इसके तहत अब तक हमने हिंदी और कई क्षेत्रीय भाषा की फिल्‍मों पर काम किये हैं। वे कहते हैं कि भोजपुरी फिल्में में अब तक पोस्‍ट प्रोडक्‍शन पर ज्‍यादा ध्‍यान नहीं दिया जाता रहा है, लेकिन इस फिल्‍म के बाद मेकर अब उस पर ध्‍यान देंगे।

उन्‍होंने कहा कि फिल्‍म ब्‍लॉकबस्‍टर होगी, ये उस समय ही मैं समझ गया था, जब वसीम भाई, शेखर शर्मा के साथ इस विषय पर पहली मीटिंग हुई थी। क्‍योंकि शेखर शर्मा शालीमार प्रोडक्शन लिमिटेड और तृषा स्‍टूडियो के बोर्ड ऑफ डायरेक्‍टर में से एक हैं, तो मुझे पूरा यकीन था कि हम फिल्‍म बेहद अच्‍छी बनायेंगे और लोगों को ये काफी पसंद आयेगी। वहीं, वसीम खान फिल्‍म की प्‍लॉटिंग के समय काफी आशान्वित थे, तो मुझे पूरा भरोसा हो चला था कि हम बेहतरीन फिल्‍म करने वाले हैं। आज जब फिल्‍म बनकर लोगों के सामने है, तो बस ये कहना चाहूंगा कि ये बहुत बड़ी फिल्‍म है। अगर इसमें हिंदी और बॉलीवुड स्‍टार को डाल दें, तो बॉलीवुड की भी ब्‍लॉकबस्‍टर फिल्‍म होगी। ये लेवल है हमारी फिल्‍म ‘मुकद्दर’ का।

राजस्‍थान से ताल्‍लुक रखने वाले त्रिलोक कोठारी से जब हमने भोजपुरी फिल्‍म की ओर आकर्षित होने का कारण पूछा तो उन्‍होंने बड़ी बेबाकी से कहा कि भोजपुरी भाषा का क्रेज अधिक है। यह क्षेत्रीय भाषाओं की बहुत बड़ी टेरेटरी है। साथ की इसकी मिठास देश से बाहर विदेशों तक है, इसलिए मुझे इस इंडस्‍ट्री ने आकर्षित किया। हालांकि इससे पहले हमने कई हिंदी और अन्‍य क्षेत्रीय फिल्‍में की भी और कई प्रस्‍तुत भी की। मगर भोजपुरी सिनेमा के साथ जुड़ना मेरे लिए सौभाग्‍य की बात है, जो फिल्‍म के डायरेक्‍टर शेखर शर्मा की वजह से भी है।

भोजपुरी फिल्म मुकद्दर में खेसारीलाल यादव और काजल राघवानी के अलावा शमीम खान, शुभी शर्मा, अयाज़ खान, प्रकाश जैश, नागेश मिश्रा, सी .पी.भट्ट, जे .नीलम आदिमुख्‍य भूमिका में है। संवाद अरविन्द तिवारी, गीत आज़ाद सिंह, प्यारे लाल यादव, अरविन्द तिवारी, संगीत मधुकर आनंद, फाइट मास्टर कौसल मोजिस, डांस मास्टर संजय कोर्व, छायांकन प्रमोद पांडेय और प्रचारक संजय भूषण पटियाला है।

Bhojpuri film Muqaddar will become Milestone in Bhojpuri cinema said Tilok Kothari.

एह पोस्ट पऽ रउरा टिप्पणी के इंतजार बा।

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen − ten =