जलज कुमार अनुपम

भोजपुरी गीत पुरुवा बेयारवा हो राम आइल बा घर से

पुरुवा बेयारवा हो राम आइल बा घर से मनवा हो उखरल लागे अब त शहर से माई के आशिष लेले मेहरी के बाच बायन मनवा कचोटत काहे...
डाॅ पवन कुमार

डाॅ पवन कुमार जी के लिखल भोजपुरी गीत इहे बा जिनिगिया

हमनी किसनवन के इहे बा जिनिगिया इहे बा जिनिगिया हो ना ।जाड़ घाम बरखा सहि-सहि दिन रतिया खूनवा जराइके कराइले नू खेतिया आसरा लगाइके...
लाल बिहारी लाल

लाल बिहारी लाल जी के लिखल भोजपुरी गीत तीन शब्दन के जाल में

छुपके-छुपा के आँख से आंसू बहाइले केतनो भूलाये चाहीं, पर ना भुलाइले छुपके–छुपा के आँख से आँसू...........कइले रह तू वादा, साSथ निभावे के पल-पल संगे साथे, खुशियाँ...
डाॅ पवन कुमार

समाज के कोढ़ डाइन-प्रथा पर एगो भोजपुरी गीत

कवने कसूरवा रामा भइले दुरगतिया मोरा लोगवा डइनिया कहि के बोलावेला रे ना।।एक तऽ बिपत पड़ल धियवा-भतार मरल दोसरे कलंकवा मथवा मढ़ाएल रे ना।।निकलीले घर से,लोगवा...
डाॅ पवन कुमार

भोजपुरी गीत डाॅ पवन कुमार जी के लिखल

बिधना कइसे के मतिया मरा गइले अब तऽ घरही में पियवा भुला गइले। पढ़ल-लिखल पिया बाड़े बिदमान हो बइठल बेकार बाड़े नाहीं कवनो काम हो हमरा मनवा के...
डाॅ पवन कुमार जी के लिखल भोजपुरी गीत

डाॅ पवन कुमार जी के लिखल भोजपुरी गीत

पियबे करे ना हो पियबे करे ना हो पियबे करे ना तनिको बूझे नाहिं बतिया पियवा पियबे करे ना। सुनली कि बंद भइले दारू के बिकीरिया सोचली...
भोजपुरी आजादी गीत : अमला नन्द पाण्डेय 'शर्मीला'

भोजपुरी आजादी गीत

हाथवा के झंडा लिहले वीरवा बा खाड़ हे।। खोलबू त भारत अपनी दुलार हे ।। हाथवा तिरंगा लिहले वीरवा बा खाड़ हे।खोलबू तू भारत मइया बजर...
bhojpuri writer ghanshyam prajapati

दरद मोहब्बत के

करब इयाद रखिहा , सबर इयाद रखिहा मोहब्बत के कवनो ना घर इयाद रखिहा कहा से चली ई कहाँ तक ले जाइ एकर ना...
जयशंकर प्रसाद द्विवेदी

अब कइसे बबुआ नमाज पढ़े जइहें

अइसन भइल चीर-फार मिटी गइल आर - पार अब कइसे बबुआ नमाज पढ़े जइहें ||टभकेले रोज रोज मन के दरदिया बाबा के नावें से लागे सरदिया सपनों में...
Sujit singh

सुजीत सिंह के लिखल तीन गो भोजपुरी गीत

मेडल लेवे में आगारी बेईमान,मक्कार,चोर,झूठा,घुंसखोर आउर लमहर भ्रष्टाचारी बा, लेकिन महानता आ समाजिकता के मेडल लेवे में आगारी बा। आज ले जेकरा से केहू के कवनो भलाई...
लाल बिहारी लाल

गांधी जी …

आइल रहस गांधी जी भारत में संत बन के उनके परिश्रम से मुक्ति मिलल गोरन सेविगुल बाजल आजादी के सहर आ गांवे-गांव केतना देले कुरबानी भइल...
सुधर जा पड़ोसी : लाल बिहारी लाल

सुधर जा पड़ोसी – भोजपुरी गीत

बहुत हो गइल अब तS पड़ोसी सुधर जा सुधर जा सुधर जा हो.... तंग कर ना जन हमके बेसी सुधर जा सुधर जा सुधर जा हो....कर...
आखिर केतना: डा. गोरख प्रसाद मस्ताना

आखिर केतना

हंसी हंसी कबले केतना बात सही हमनी दुनिया के एकतरफा घाट सही हमनीसहकल बहकल लोगवा के बा सह पर सह आखिर कबलें केतना मात...
Dr. Gorakh parsad mastana

डॉ गोरख प्रसाद मस्ताना के भोजपुरी गीत ‘तीत मीठ’

केहू से हम तीत मीठ बतियाई काहे बिना कान से सुनले पतियाई काहेझूठ साँच के खेल हवे आगी जइसन बेमतलब के आपन हाथ जराई...
Chandan kumar singh

माई तोर चूनर लहराइलऽ

ओ झीना झीना उड़ल अबीर गुलाल माई तोर चूनर लहराइलऽरंग तहरा रीत केऽ, रंग तहरा प्रीत केऽ, रंग तहरा जीत केऽ ले आइलऽ...
Chandan kumar singh

मर के भी भोजपुरी माई हम चुकाई तहार इ एहसान

माटी के क़र्ज़ बा हम मर के भी चुकायेब तोरा के माटी क देब चाहे हमही माटी हो जायेब कहत बानी उ हम करके...
चइता - हरिकिशोर पाण्डेय

आजुओ सावन कजराइल

आजुओ सावन कजराइल, कदमवाँ फुलाइल हो रामा...श्याम नाहीं आइल श्याम नाहीं गोकुल आइल हो रामा...श्याम नाहीं... आजुओ चनरमा वृंदावन आवे पंचम तान कोइलिया सुनावे मथुरा मुरलिया पराइल हो रामा...श्याम...
किरिनियाँ कहाँ चलि जाले?

किरिनियाँ कले-कले कहाँ चलि जाले?

सारी सोनहुली सबेर झमका के, सँवकेरे रूप के अँजोर छिटिका के, जाये का बेर ढेर का अगुताले- किरिनियाँ कले-कले कहाँ चलि जाले?चलत-चलत बीच रहिया में हारल, दुपहरिया तेज...
देस हमार

देस हमार

पहिल जोति फूटे पूरुब से, भइल जगत उजियार बजे भैरवी किरन बेनु पंछी के बजे सितार माथ चढ़ावे किरन बेनु पंछी के बजे सितार माथ चढ़ावे चरन...
नाव खुले माँझी रे - अनिरूद्ध

नाव खुले माँझी रे

पंछी चहके डेरात, कुनमुनात र्छवरा बा, फुलवा महके डेरात, गुनगुनात भँवरा बा, कुलबुलात भोर लुका, कुहरा के पहरा बा, कुहा खुल माँझी रे, नाव खुल होसियार, धार, लहर,...

जोगीरा के साथ जुड़ी

11,796FansLike
9FollowersFollow
300FollowersFollow

टटका अपडेट