निर्माता अभय सिन्हा की फिल्मों पर बिहार-झारखंड में प्रतिबन्ध लगाने की मांग

0
93

जनकवि भिखारी ठाकुर लोक साहित्य और संस्कृति मंच’ ने भोजपुरी फिल्मों के निर्माता अभय सिन्हा की फिल्मों पर बिहार-झारखंड में प्रतिबन्ध लगाने की मांग ‘बिहार-झारखण्ड मोशन पिक्चर एसोसिएशन’ से की है. एसोसियेशन के अध्यक्ष डॉ . सुनील को दिए ज्ञापन में जनकवि भिखारी ठाकुर लोक साहित्य व संस्कृति मंच के अध्यक्ष लालन राय व सचिव कृष्ण कुमार वैष्णवी ने कहा है की अभय सिन्हा ने भोजपुरी के शेक्सपियर माने जाने वाले नाट्यकर्मी भिखारी ठाकुर के नाटक ‘बिदेसिया’ पर भोजपुरी फिल्म बनायी थी जो की कापीराईट एक्ट का उल्लंघन था. जनकवि भिखारी ठाकुर लोक साहित्य व संस्कृति मंच के बैनर तले भिखारी ठाकुर के पोते राजेंद्र ठाकुर ने छपरा (बिहार) कोर्ट 63 में कॉपीराईट एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया था. छपरा के न्यायिक जज ब्रजेश कुमार ने मुकदमे की सुनवाई करते हुए निर्माता अभय सिन्हा, लेखक रंजन कुमार सिंह व यशी फिल्म्स के प्रबंधक के खिलाफ वारंट जारी किया है. मंच ने इस आधार पर बिहार-झारखण्ड मोशन पिक्चर एसोसिएशन के अध्यक्ष, फिल्म वितरक व निर्माता डॉ. सुनील कुमार से मांग की है कि अभय सिन्हा की कोई भी फिल्म बिहार-झारखण्ड मे तब तक रिलीज ना हो जब तक भिखारी ठाकुर परिवार को न्याय नहीं मिल जाता है.

एह पोस्ट पऽ रउरा टिप्पणी के इंतजार बा।

five × one =