INTERVIEW OF BIPIN SINGH

0
235

जैसा की सभी दर्शक बिपिन सिंह को फिल्मों में अभिनय करते हुए देखते है ,तो दर्शको के मन में यह भाव उठता होगा की
अपने अभिनेता को पास से जाने तो इसके लिए प्रस्तुत है बिपिन सिंह का इंटरव्यू :-

जैसा की देखा जाता है की एक कलाकार अपने जीवन में स्ट्रगल करता है,आपके जीवन में भी यह स्थिति आई ?
बिपिन सिंह-“मैंने कोई स्ट्रगल नहीं किया,काम देना है तो दीजिये नहीं तो राम,राम” । जीटी वी के धारावाहिक “रावण” से करियर की शुरुआत हुई ।

अक्सर देखा जाता है की फिल्म इंडस्ट्री में किसी न किसी का गॉड फादर होता है,क्या आप का भी कोई गॉड फादर है ?
बिपिन सिंह-“मेरा या मेरे पूरे परिवार यानी नीलिमा सिंह,अक्षरा सिंह का कोई गॉड फादर नहीं है “,”कर्म ही गॉड ,और कर्तव्यनिष्ठ ही फादर है “।

कहा जाता है की एक सफल व्यक्ति के पीछे परिवार का साथ और प्रेरणा होती है ,आपका क्या कहना है ?
बिपिन सिंह-“हम अपने माता-पिता की ऊँगली पकड़ कर ही जीवन शुरू करते है ,मेरे पिता “आदित्य नारायण सिंह ” मेरे आदर्श थे ,माता रजमनी देवी मेरी पूँजी । आज नीलिमा और अक्षरा एवं
बेटा केशव सिंह मेरे जीवन रुपी पूँजी है ।अगर मै साफ़ शब्दों में कहूँ तो “सफलता की शुरुआत परिवार रुपी वृक्ष से होती है,फिर वृक्ष और तना तो मजबूत होगा ही “।

आपको खलनायक की भूमिका में दर्शक लोग ज्यादा पसंद करते है?
बिपिन सिंह-दर्शक लोग मेरे अभिनय की प्रशंसा और पसंद करते है ,ये तो मेरे लिए सौभाग्य की बात है ,और मै अभिनय अपनी जनता के लिए करता हूँ ,तो अभिनय तो
दमदार होगा ही .गरदा।।।।।।

हमने सुना है की आप डांस भी बढ़िया कर लेते है ,आपकी शिक्षा कहां से हुई ,आपका गाँव कहाँ है ?
बिपिन सिंह-“अरे ज़नाब हमने थियेटर के दौरान अपनी नाट्य संस्थान “नाट्य कला मंच ” के लिए घुंगरू पहन कर बहुत नाचा है ,मेरी शिक्षा पटना कॉलेज से पूर्ण की है ,
मेरे पूर्वज नालंदा जिले के हिलसा गाँव बाजितपुर के रहने वाले थे ,वह से वे पटना अ गए ,और में बचपन पटना में बीता ।

आपकी आपने वाली फ़िल्में के विषय में बताइए ?
बिपिन सिंह-बहुत सारी फ़िल्में आने वाली है जिनमें मायाजाल,ठोक देब ,प्रतिघात ,विजय तिलक और बहुत।।।।।।

आज के माहोल को देख कर आप दर्शको से क्या कहना चाहेंगे ?
बिपिन सिंह-आज का माहोल देख कर दर्शको से यही कहूँगा की,बढती जनसंख्या ने प्रतियोगिता बढ़ा दिया है ,और प्रतियोगिता ने मेहनत ,अपने दिमागी मनोरंजन के लिए सिनेमा देखिये
और हां भोजपुरी सिनेमा जरूर देखिये गरदा ..

SHARE
Previous articleBipin Singh’s “MayaJaal”
Next articleSanjay Bhushan Patiyala awarded as Best Award PRO
जोगीरा डॉट कॉम भोजपुरी के ऑनलाइन सबसे मजबूत टेहा में से एगो टेहा बा, एह पऽ भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री के टटका ख़बर, भोजपुरी कथा कहानी, भोजपुरी किताब, भोजपुरी साहित्य आ भोजपुरी से जुड़ल समग्री उपलब्ध बा।

एह पोस्ट पऽ रउरा टिप्पणी के इंतजार बा।

Please enter your comment!
Please enter your name here

fifteen − nine =