करे ला कमाल धरती के लाल प्रदर्शन के लिए तैयार

0
96

प्रसाद फिल्म इंटरप्राइजेज के बैनर तले बनी निर्माता डा.यू.एस. प्रसाद एवं लेखक-निर्देशक कुमार विकल की भोजपुरी फिल्म ‘करे ला कमाल धरती के लाल’ शीघ्र ही सर्वत्र प्रदर्शित होनेवाली है। यह फिल्म सत्य कहानी पर आधारित है। भगवान बुद्ध के उपदेशों पर आधारित इस फिल्म में दिखाया गया है कि समाज में बुराई और बेईमानी की कोई जगह नहीं है और यह सब शांति और भाईचारे की नीति से ही समूल नष्ट किया जा सकता है।
इस फिल्म में पवन सिंह, मोनालिसा के अलावा अक्षरा सिंह काफी अलग और हटकर किरदार निभा रही हैं। पवन सिंह इस फिल्म में किसान के बेटे की भूमिका निभा रहे हैं जो काफी पढ़ा लिखा होकर भी गांव में रहना पसंद करता है और गांव समाज की सेवा करना ही अपनाप धर्म व कर्तव्य समझता है। मोनालिसा थाईलैण्ड की रहनेवाली युवती का किरदार निभा रही हैं जिनके पूर्वज कभी बिहारी थे और वह अपने पूर्वज की जन्मभूमि का दर्शन करने आती है जहां पर उसकी मुलाकात पवन सिंह से होती है।

अक्षरा सिंह इस फिल्म में लेडी विलेन के रूप में नजर आयेंगी। ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी भोजपुरी फिल्म में कोई महिला अभिनेत्री ये काम कर रही है। वह इस फिल्म में लेडी डाॅन के रूप में हैं जो भयंकर रूप से पवन सिंह से टकराती है। इसके अलावा फिल्म में सचित कुमार एक जांबाज पुलिस इन्स्पेक्टर की भूमिका में हैं जिसे गांव की एक चंचल लड़की अंजना सिंह जबरन प्यार करना चाहती है। इसके अलावा ब्रजेश त्रिपाठी, समर्थ चतुर्वेदी, पुष्पा वर्मा, आनंद मोहन, पूजा राय, शकीला मजीद, के.के. गोस्वामी एवं उदय शंकर की मुख्य भूमिका है। इसमें वह उदय शंकर बौद्ध भिक्षु की भूमिका निभा रहे हैं। आइटम गर्ल के रूप में सीमा ंिसह की एंट्री हेलन की याद दिलाएगी। इसमें विनय बिहारी के लिखे गीतों को राजेश गुप्ता ने बेहतरीन संगीत दिया है, जिन्हें कानू मुखर्जी और रिकी गुप्ता ने शानदार ढंग से फिल्माया है। दिलीप यादव का फाइट और एक्शन जबरदस्त है। संजीव राणे की कला एक सबल पक्ष है साथ ही प्रमोद पाण्डेय की फोटोग्राफी लाजवाब है।

करे ला कमाल धरती के लाल प्रदर्शन के लिए तैयार

एह पोस्ट पऽ रउरा टिप्पणी के इंतजार बा।

6 − 3 =