महेश ठाकुर “चकोर” हुए सम्मानित “केसरिया रत्न सम्मान” से

0
270

सादा जीवन उच्च विचार के पथ पर अग्रसर, मृदु भाषी, सरल स्वाभाव, आध्यात्मिक विचारधारा के व्यक्तित्व के धनी, हिन्दी – भोजपुरी के कवि व
गीतकार जनकवि महेश ठाकुर “चकोर” को भोजपुरी लेखन, शिक्षण में अहम योगदान के लिए केसरिया रत्न से सम्मानित किया गया है। विगत 19 फरवरी 2017 को राजकीय मध्य विद्यालय केसरिया में भोजपुरी विकास मंच केसरिया के स्थापना दिवस के शुभ अवसर पर भोजपुरी के पितामह स्व० पं० गणेश चौबे स्मृति व्याख्यान और हास्य व्यंग कवि सम्मलेन में उन्हें सम्मानित किया गया है।

विदित हो कि जनकवि महेश ठाकुर “चकोर” बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के सरैया प्रखंड के मधौल गांव के निवासी हैं। अब तक उन्होंने कई सराहनीय कार्य कर क्षेत्र का गौरव बढ़ाया है। बताते चले कि बीते कुछ साल पहले उन्हें भोजपुरी के शेक्सपियर कहे जाने वाले भिखारी ठाकुर के सम्मान से हिन्द
सेना मुजफ्फरपुर द्वारा सम्मानित किया गया था। ऐसे ही कई सम्मान से जनकवि महेश ठाकुर चकोर सम्मानित किये जा चुके हैं। उन्होंने साहित्य के क्षेत्र
उच्चतम स्थान स्थापित किया है। ऐसे मूर्धन्य कवि का सम्मान होना साहित्य समाज के लिए गौरव की बात है।

एह पोस्ट पऽ रउरा टिप्पणी के इंतजार बा।

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × two =