नाम चम्पवा खुशबु के पते ना

0
80

नाम चम्पवा खुशबु के पते ना ….
ढेर बा लोग अइसन आन्हर
चारु ओरि छितराइल
चेला चमचा बा ढेर उनका पीछे बोटरालइल
जे उ बोली उहे बा सही
विद्वान के तगमा बा त ओकरे बतिया रही
कथनी करनी बा तेरे बाइस
राखे ले विद्वान बने के खाहिस
घृणा द्वेष बांटी लोग
अपने त लुटी सभे
दोसरा के डाँटि लोग

रचनाकार: संतोष कुमार

SHARE
Previous articleGrand Muhurat of Cheechore
Next articleहमहुँ सम्मानित होखब
जोगीरा डॉट कॉम भोजपुरी के ऑनलाइन सबसे मजबूत टेहा में से एगो टेहा बा, एह पऽ भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री के टटका ख़बर, भोजपुरी कथा कहानी, भोजपुरी किताब, भोजपुरी साहित्य आ भोजपुरी से जुड़ल समग्री उपलब्ध बा।

एह पोस्ट पऽ रउरा टिप्पणी के इंतजार बा।

seven − three =