समय के सियाही से

0
124

समय के सियाही से के लेखक की ओर से

युग-युय से साँच आँकेवाला भोजपुरी के कवि अपना समय के सत्य के प्रति केतना जागरूक बा एकर प्रमाण बा इ कविता संग्रह।

ओमप्रकाश सिन्हा के एह संग्रह में संकलित कविता, गीत आ मुक्तक से ई बात साबित होता की इनका सोंच के दायरा के फईलाव हो रहल बा,ई संग्रह एह माने में उपयोगी बा कि एकरा में संकलित कविता लोक जीवन के आईना में जिंदगी के चेहरा साफ साफ लउकत बा।

उमेद बा जे भोजपुरी जगत में एह संग्रह के रउवा सब के पसंद आई

लेखक: ओमप्रकाश सिन्हा
समय के सियाही से : भोजपुरी कविता संग्रह

“समय के सियाही से:भोजपुरी कविता संग्रह” डाउनलोड करे के खातिर क्लिक करी

एह पोस्ट पऽ रउरा टिप्पणी के इंतजार बा।

15 − 8 =