शिवचर्चा अब बड़े परदे पर

0
96

दीदी नीलम इंटरटेनमेंट प्रा.लि. के बैनर तले निर्माता अर्चित की  भोजपुरी फिल्म शिव  चर्चा-एक आध्यात्मिक जागरण’ अब जल्द ही बड़े परदे पर नजर आने वाली है। शिव की महिमा से ओत-प्रोत एवं शिव भक्ति की अटूट भक्तिमय कहानी है, जिसमें एक बहन बांझ का दर्द और समाज के तीखे तानों से आहत है। वहीं वह अपनी मां और छोटी बहन के लिये अपने जिस्म को गिरवी रख देती है। ऐसे हालात में उसे अपने प्यार की भी बलि देनी पड़ती है। लेकिन शिव गुरु की कृपा उस पर ऐसी होती है कि उसकी सारी तकलीफें दूर हो जाती है और उसकी जिन्दगी प्रकाशमय हो जाती है।  फिल्म का नायक मनरेगा का मजदूर होते हुए भी बड़ा स्वाभिमानी एवं सत्यवादी शिव भक्त है। वह समाज के ऊंचे तबके के लोगों पर सीधा प्रहार करता है जो गरीब और लाचार लोगों की अस्मत के साथ खिलवाड़ और अत्याचार करते हैं। यह नारी प्रधान फिल्म है जो अध्यात्मिकता के साथ शिव भक्ति के तारतम्य को बड़े ही मर्मस्पर्शी एवं भावनात्मक रूप से दर्शाया गया है।

फिल्म के निर्देशक अशोक घायल इससे पहले बतौर संगीतकार “हमार घरवाली”, “कन्हैया”, “गंगा”, “गंगोत्री”, “किसना कइलस कमाल”, “हे राम”, “गंगा मइया तोहे चुनरी चढ़इबो”, “चला सखी दुल्हा देखे” जैसी कई दर्जनों फिल्मों में काम कर चुके हैं। निर्देशक के रूप में “शिवा चर्चा-एक आध्यात्मिक जागरण” उनकी पहली फिल्म है। इस फिल्म में विनय आनंद, प्रतिभा पाण्डे, उदय श्रीवास्तव, सुमंत मिश्रा, राहुल सिंह, नेन्सी वर्मा, डा. राजेन्द्र, भानू उजाला, निकिता, सूरज, राजू कुंजुवाला, प्रमिला सिन्हा, चांदनी एवं अन्य की प्रमुख भूमिका है।

एह पोस्ट पऽ रउरा टिप्पणी के इंतजार बा।

five − 3 =