सुजीत तिवारी की अनोखी पहल

0
172

भोजपुरी फिल्मो के संकट मोचन के नाम से प्रसिद्द फिल्म फ़ाइनेन्सर व निर्माता सुजीत तिवारी ने बदहाली के दौर से गुजर रही भोजपुरी फिल्म इंडसट्रीज़ को संकट से उबारने के लिए एक अनोखी पहल भोजपुरी फिल्मो के निर्माताओं से की है . उन्होंने निर्माताओं से अपील की है की अगर दर्शको को तादात बढानी है तो उन्हें सी फेक्टर पर काम करना होगा . सी फेक्टर के बारे में उन्होंने बताया की भोजपुरी फिल्मे ना चलने का कारण है सी फेक्टर का अभाव . उन्होंने बताया की फिल्मो में चार सी फेक्टर होती है कास्टिंग, कौसट्यूम, कोंनसेप्ट और कैमरा . भोजपुरी के फिल्म मेकर आज ना तो किरदार के अनुसार कास्टिंग कर पाते हैं, ना उनकी कौसट्यूम पर ध्यान देते हैं . घिसी पीती कहानी और किसी भी कैमरे पर फिल्म शूट कर लेते हैं . इसी का परिणाम है की आज दर्शको का प्यार भोजपुरी को नहीं मिल रहा है . उन्होंने फिल्म निर्माताओं से आगाह किया है की अगर इस फेक्टर को अपनी फिल्म में शामिल करेंगे तो निः संदेह एक बार फिर से भोजपुरी का सुनहरा दौर शुरू हो जायेगा . उल्लेखनीय है की सी पी आई मूवीज के बैनर तले सुजीत तिवारी ने कई फिल्मे प्रस्तुत की है . उनकी आने वाली फिल्मो में दूध का कर्ज, कच्चे धागे, जानी दुश्मन, प्रतिज्ञा २ व मराठी फिल्म मध्यमवर्ग आदि शामिल हैं .
सुजीत तिवारी की अनोखी पहल

एह पोस्ट पऽ रउरा टिप्पणी के इंतजार बा।

Please enter your comment!
Please enter your name here

13 + 6 =