हैट्रिक की तैयारी में विराज भट्ट

0
190

भोजपुरी फिल्मों के एक्शन स्टार विराज भट्ट हैट्रिक की तैयारी में हैं। उनकी दो फिल्मों ने बिहार में कमाल का बिजनेस किया और उनकी तीसरी फिल्म प्रदर्शन को तैयार है। जी हां! विराज भट्टा का जादू इन दिनों भोजपुरी सिनेमा जगत में खूब चल रहा है। हिट पर हिट फिल्म देनेवाले विराज भट्ट की पहले ‘तू ही तो मेरी जान है राधा’ ने बिहार में सफलता का डंका बजाया ओर अब उनकी इस शुक्रवार को प्रदर्शित फिल्म “पंचायत” ने भी शानदार ओपनिंग बिहार में पाया है।

विराज भट्ट की तीसरी फिल्म “कसम वर्दी के” भी 20 सितम्बर को बिहार में प्रदर्शित होने जा रही है। माना जा रहा है कि इस फिल्म की सफलता के साथ ही विराज भट्ट इस तिमाही की हैट्रिक लगाने जा रहे हैं। वैसे आपको बता दें कि विराज भट्ट की फिल्म “तू ही तो मेरी जान है राधा” इसी शुक्रवार को मुंबई में भी प्रदर्शित होने जा रही है। विराज भट्ट अपनी फिल्म “तू ही तो मेरी जान है राधा” और “पंचायत” की सफलता से काफी उत्साह में हैं। वे कहते हैं निश्चित रूप से इसके लिए मैं इन फिल्मों के निर्माता और निर्देशक तथा पूरी टीम और दर्शकों का आभारी हूं।

विराज भट्ट अपनी आनेवाली फिल्म “कसम वर्दी के” को भी लेकर काफी उत्साहित है। वे कहते हैं निर्देशक दिनेश यादव ने कमाल की फिल्म बनायी है “कसम वर्दी के”। इस फिल्म के निर्माता कांतिलाल पी. मारू हैं। इसमें विराज भट्ट बिल्कुल ही नये रूप में है। विराज की नायिका मोनालिसा हैं और मोना भी एक अनोखी भूमिका में हैं। इनके बीच एक मदन मोहन भी हैं और आमने सामने हैं नम्बर वन खलनायक संजय पांडेय, अवधेश मिश्रा और अयाज खान। इनके अतिरिक्त आनंद मोहन, मनोज टाईगर, प्रकाश जैस, प्रिया शर्मा, रत्नेश वर्णवाल और तेज यादव, किरन यादव इत्यादि। मोनालिसा के अलावा और जो हसीनाएं हैं, वो हैं सीमा सिंह, सम्भावना सेठ और ग्लोरी के आईटम नम्बर हैं, पर सीमा एक सशक्त भूमिका में दिखायी देंगी। गीत लिखे हैं प्यारेलाल यादव और श्याम देहाती ने। जबकि संगीतकार हैं प्यारेलाल यादव और नृत्य निर्देशन कानू मुखर्जी का है। कहानीकार हैं लालजी यादव।

हैट्रिक की तैयारी में विराज भट्ट

SHARE
Previous articleबच्चू पांडे द रीयल हीरो का मुहूरत
Next articleInsaaf ki Devi
जोगीरा डॉट कॉम भोजपुरी के ऑनलाइन सबसे मजबूत टेहा में से एगो टेहा बा, एह पऽ भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री के टटका ख़बर, भोजपुरी कथा कहानी, भोजपुरी किताब, भोजपुरी साहित्य आ भोजपुरी से जुड़ल समग्री उपलब्ध बा।

एह पोस्ट पऽ रउरा टिप्पणी के इंतजार बा।

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × five =