जब यश और अंजना बने सिनेमा हॉल के बुकिंग क्लर्क

0
145

भोजपुरी फिल्मो की हॉट केक कही जाने वाली अभिनेत्री अंजना सिंह और भोजपुरी के राइजिंग स्टार यश कुमार उस समय भौचक्के रह गए जब अपनी फिल्म दिलदार सांवरिया के प्रोमोशन के दौरान दर्शको ने एक अजीब सी मांग रख दी . हुआ यूँ की दिलदार सांवरिया के प्रोमोशन के लिए दोनों कलाकार फिल्म के प्रचारक उदय भगत के साथ बिहार के मुजफ्फरपुर शहर में पहुचे . दिलदार सांवरिया वहाँ के दो सिनेमा हॉल में लगी है . शकुन्तला और शेखर सिनेमा हॉल के अन्दर और बाहर सैकड़ो की तादात में लोग दोनों कलाकारों की एक झलक पाने के लिए बेताब थे . यश और अंजना ने दर्शको के उत्साह को बढाते हुए उनका भरपूर मनोरंजन किया . दर्शको की मांग पर उन्होंने जैम कर ठुमके भी लगाए . अचानक अगले शो की टिकट लेने लम्बी कतार में लगे दर्शको ने यह मांग कर डाली की उन्हें दोनों कलाकारों के हाथ से ही टिकट लेना है . यश और अंजना ने उनकी यह मांग भी पूरी कर दी . दोनों लगभग आधे घंटे तक टिकट काउंटर पर टिकट काटते रहे और जब हाउसफुल का बोर्ड बाहर टंगा तभी वहाँ से निकले . अंजना जहां दर्शको को टिकट देती दिखी वहीँ यश कैशियर की भूमिका में दिखे . उल्लेखनीय है की १४ जून को बिहार में रिलीज़ हुई दिलदार सांवरिया को दर्शको का काफी अच्छा प्रतिसाद मिला है . इस फिल्म का ओपनिंग कलेक्शन काफी अच्छा रहा है . फिल्म के वितरक आलोक कुमार भोजपुरी फिल्मो के सबसे बड़े निर्माता माने जाते हैं . नौ सुपर हिट फिल्मो का निर्माण कर चुके आलोक कुमार अपनी फिल्मो का वितरण खुद करते हैं , पहली बार उन्होंने किसी अन्य निर्माता की फिल्म का वितरण किया है और इस फिल्म ने भी उनकी फिल्मो की तरह सफलता का रिकोर्ड कायम रखा है . तन्वी मल्टीमीडिया के बैनर तले दीपक शाह निर्मित व विशाल वर्मा निर्देशित फिल्म दिलदार सावरिया में अंजना की यश के साथ रोमांटिक जोड़ी है . इस फिल्म के लेखक हैं एस . के . चैहान . फिल्म के एक्शन दृश्यों को निर्देशित किया है दक्षिण भारत के प्रसिद्द फाईट मास्टर वेंकट ने , जबकि इसे कैमरे में उतारा है दक्षिण भारत के ही कैमरामेन सी . जगन ने . दिलदार सावरिया के अन्य मुख्य कलाकारों में प्रसिद्द खलनायक संजय पाण्डेय, अलोक यादव, सोम भूषण , मानवेन्द्र त्रिपाठी, जफर खान, नीलिमा सिंह, सोनिया मिश्रा, रितु सिंह, धर्मेन्द्र, उमाकांत , जैकी और संजय वर्मा है . फिल्म के आयटम डांस को शिल्पी शुक्ला और मल्लिका शाह पर फिल्माया गया है .

[slideshow_deploy id=’5998′]

जब यश और अंजना बने सिनेमा हॉल के बुकिंग क्लर्क

एह पोस्ट पऽ रउरा टिप्पणी के इंतजार बा।

Please enter your comment!
Please enter your name here

eighteen − 5 =