गंगा प्रसाद ‘अरुण’ जी के लिखल भोजपुरी गीत संग्रह हहरत हियरा

0
गंगा प्रसाद 'अरुण' जी के लिखल भोजपुरी गीत संग्रह हहरत हियरा
गंगा प्रसाद 'अरुण' जी के लिखल भोजपुरी गीत संग्रह हहरत हियरा

गंगा प्रसाद ‘अरुण’ जी के ‘आपन बात’

ली, हमार पहिला प्रयास रउरा सभे के सामने बा। संगी साथी लोग के आग्रह अनुग्रह से एह गीत संग्रह के रउरा सभे के सामने राखत एगो अजबे आनंद के अनुभव कर रहल बानी -एगो संकोच के भाव भी बा मन में। आजु, जब भोजपुरी साहित्य में सभ विद्या पर साहित्य सृजन तेज़ी से हो रहल बा, अभिजात गीतन के भी कमी नइखे, तब आपन टूटल फुटल भाषा में लिखल ई कुछ गीत संकोच स्वाभविक बा।

भोजपुरी गीत संग्रह हहरत हियरा डाउनलोड करे के खातिर क्लिक करीं

>> भोजपुरी के आउरी किताब पढ़े खातिर क्लिक करीं

रउवा खातिर  
भोजपुरी मुहावरा आउर कहाउत
देहाती गारी आ ओरहन
भोजपुरी शब्द के उल्टा अर्थ वाला शब्द
जानवर के नाम भोजपुरी में
भोजपुरी में चिरई चुरुंग के नाम

इहो पढ़ीं
भोजपुरी गीतों के प्रकार
भोजपुरी पर्यायवाची शब्द – भाग १
भोजपुरी पहेली | बुझउवल
भोजपुरी मुहावरा और अर्थ
अनेक शब्द खातिर एक शब्द : भाग १
लइकाई के खेल ओका – बोका
भोजपुरी व्याकरण : भाग १
सोहर

ध्यान दीं: भोजपुरी फिल्म न्यूज़ ( Bhojpuri Film News ), भोजपुरी कथा कहानी, कविता आ साहित्य पढ़े  जोगीरा के फेसबुक पेज के लाइक करीं।

Leave a Reply