भोजपुरी शब्दकोश : Bhojpuri Dictionary

जोगीरा डॉट कॉम (www.jogira.com) के कोशिश बा की रउवा लोगन के भोजपुरी के प्रती लगाव बढ़ावल जाव वोही मकसद से जोगीरा डॉट कॉम पर भोजपुरी शब्दकोश पेज बनावल गईल बा, भोजपुरी के शब्द के जानकारी बढ़े आ जे भोजपुरी नइखे जानत भा जाने के इच्छा रखत बा त वो लोग ख़ातिर भी इ पेज बहुत उपयोगी बा।

जोगीरा डॉट कॉम के लगातार सार्थक कोशिश रही कि आपन गौरवशाली अतीत के फेर से परिभाषित कऽ के भोजपुरी के छवि के आपन देस के साथे-साथ दुनिया के बाकी हिस्सा में भी पुनर्जीवित कईल जाव। ई काम में रउरा सब के सहयोग के साथ जरुरी बा, एह से रउरा सभे से निहोरा बा की “जोगीरा डॉट कॉम” से जुड़ी आ आपन भासा भोजपुरी के आगे बढ़ावे में टीम जोगीरा के मदद करीं।

जरूर पढ़ीं: भोजपुरी सीखे : Learn Bhojpuri

अगर रउवो लगे भोजपुरी शब्दन के संग्रह बा त जोगीरा डॉट कॉम के भेज दीं, राउर शब्द भोजपुरी शब्दकोश : Bhojpuri Dictionary पर जोड़ दीहल जाई।

| | | | | | | | | | | | | | | | | | | | | | | | | | | | | | | | | |
Reset list
कइसन -  कैसा
कइसे -  कैसे
कइसे भइल -  कैसे हुआ
कउआ -  कौआ
कउड़ा -  अलाव
ककही -  कंघी
कगरी -  किनारा
कचकाड़ा -  प्लास्टिक
कचोरा -  कटोरा
कटहर -  कटहल
कठेस -  कड़ा, कसा हुआ
कतहि -  कही भी
कतहुँ -  कही भी
कनिया -  दुल्हन
कब दो -  पता नही कब
कब दोनि -  पता नही कब
कबहूॅं -  कभी
कबो ना -  कभी नही
कबो-कबो -  कभी-कभी
कमासुत -  मेहनती
करजा -  कर्ज, उधार
करलूठा -  काला
करवाइन / किरवाइन -  जिस बर्तन में मांस-मंछली पकाया अथवा रखा जाता है, उस बर्तन को करवाइन बर्तन कहते हैं।
करऽ -  करो
करिया -  काला
करू/कडू तेल -  सरसों का तेल
करेजा -  कलेजा
करेलऽ -  करते हो
कलजुग -  कलयुग
कवन-कवन -  कौन कौन
कवर -  निवाला
कहतू -  कहती, अगर कहती
कहनाम -  कथन, कहावत
कहल -  कहा हुआ
कहल बा -  कहा हुआ है
कहवाँ -  कहाँ
कहार -  भार उठाने या ढ़ोने वाला
कहि दऽ, कह दऽ -  कह दो
कऽमर -  कंबल
का -  क्या
का दो -  पता नहीं क्या
कांदो -  कीचड़
काते काते -  किनारे किनारे
कान्ह -  कन्धा
काशी के फिरता -  चतुर, चालाक
काहे के -  किसलिए
किरपा -  कृपा
किरिन -  किरण
किरिन -  किरण
किरिया -  कसम
किसिम -  प्रकार
किस्सा -  कहानी
कीनना -  खरीदना
कीनल -  खरीदा हुआ
कुकुर -  कुत्ता
कुछउ -  कुछ भी
कुदारी -  कुदाल
कुदेलऽ -  कूदते हो
कुपातर -  अयोग्य
कुबत -  शक्ति
कुबेरा  -  गलत समय
कुल्ही -  सब
कूंची -  झाड़ू
केकर -  किसका
केकरा से -  किस से
केतना -  कितना
केने -  किधर, कहाँ
केरा -  केला
केवाड़ी -  दरवाजा
केहुए केहुए -  कोई कोई
केहू -  कोई
केहू तरेह -  किसी तरह
कोआ -  कटहल का फल
कोरा -  गोद
कोल्हुआड़ -  गन्ना पेरने की जगह
कोहनाना -  क्रुद्ध होना
कोहबर -  भीतर घर जहाँ वर वधू साथ बैठेते हैं।

रउवा खातिर:
भोजपुरी मुहावरा आउर कहाउत
देहाती गारी आ ओरहन
भोजपुरी शब्द के उल्टा अर्थ वाला शब्द
कइसे भोजपुरी सिखल जाव : पहिलका दिन
कइसे भोजपुरी सिखल जाव : दुसरका दिन
कइसे भोजपुरी सिखल जाव : तिसरका दिन
कइसे भोजपुरी सिखल जाव : चउथा दिन
कइसे भोजपुरी सिखल जाव : पांचवा दिन
कइसे भोजपुरी सिखल जाव : छठवा दिन
कइसे भोजपुरी सिखल जाव : सातवा दिन
कइसे भोजपुरी सिखल जाव : आठवाँ दिन

ध्यान दीं: भोजपुरी कथा कहानी, कविता आ साहित्य पढ़े खातिर जोगीरा के फेसबुक पेज के लाइक करीं