भोजपुरी के लिए विशाल धरना प्रदर्शन 7 अगस्त, 2018 को

भोजपुरी के संवैधानिक मान्यता और आठवीं अनुसूची में शामिल कराने के लिए पूर्वांचल एकता मंच, भोजपुरी जन जागरण अभियान, अखिल भारतीय भोजपुरी साहित्य सम्मेलन, अखिल भारतीय भोजपुरी लेखक संघ और रंगश्री के संयुक्त तत्वावधान में आगामी 7 अगस्त, 2018 दिन मंगलवार को विशाल धरना प्रदर्शन का आयोजन दिल्ली के जंतर मंतर पर किया जायेगा।

जरूर देखीं: भोजपुरी शब्दकोश : Bhojpuri Dictionary

ज्ञात हो कि भोजपुरी भाषा को आठवीं अनुसूची में शामिल कराने के लिये लगातार प्रयास किया जा रहा है। भोजपुरी भाषा को बोलने वालों की संख्या पुरे विश्व में 25 करोड़ से उपर है। यह भाषा सिर्फ भारत के बिहार, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश, झारखंड, छतीसगढ़ आदि राज्यों में ही नही अपितु भारत के बाहर करीब चौदह देशों में बोली जाती है। इतनी समृद्धिशाली भाषा को देश के बाहर कई देशों में संवैधानिक मान्यता प्राप्त है। परन्तु यह दुख की बात है कि भोजपुरी अपने ही देश में अपने ही लोगों के बीच अपना हक नही ले पा रही है।

भोजपुरी के किताब पढ़े खातिर क्लिक करीं

विगत लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री के साथ साथ बिहार के कई सांसद और केन्द्र में मंत्री रविशंकर प्रसाद, सुशील कुमार मोदी समेत कई नेताओं ने यह वादा किया था कि भाजपा की सरकार बनी तो भोजपुरी संविधान में शामिल होगी। पर सरकार बने अब चार साल हो गये फिर भी यह सरकार भोजपुरी के प्रति अपनी मनसा स्पष्ट नही कर पाई है। इसी को लेकर इस बार संयुक्त रूप से इन सभी संस्थाओं ने कमर कस लिया है,इस बार आर पार की लड़ाई के लिये तैयार है भोजपुरी भाषा भाषी।

जरूर पढ़ीं: भोजपुरी सीखे : Learn Bhojpuri

भोजपुरी जन जागरण अभियान के राष्ट्रीय संयोजक सह झारखंड प्रभारी राजेश भोजपुरिया ने सभी भोजपुरी के संस्था, भोजपुरी प्रेमी, साहित्यकार, पत्रकार, समाजसेवी, गायक कलाकार, रंगकर्मी, राजनेता, भोजपुरी से जुड़े सभी लोगों से इस धरना प्रदर्शन में इस बार शामिल होने के लिए अपील किया हैं।

इस विशाल धरना में छत्तीसगढ़, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश, बिहार, झारखंड के अलावा मुम्बई, कोलकाता, असम और देश के कई भोजपुरी क्षेत्र से भोजपुरी भाषा भाषी व प्रतिनिधि शामिल होंगे। भोजपुरी भाषा के सम्मान और अपने हक के लिये भोजपुरी भाषा भाषियों का जुटान होगा।

ध्यान दीं: भोजपुरी कथा कहानी, कविता आ साहित्य पढ़े खातिर जोगीरा के फेसबुक पेज के लाइक करीं

राजेश भोजपुरिया
(राष्ट्रीय संयोजक)
“भोजपुरी जन जागरण अभियान”

Leave a Reply