भोजपुरी पहेली | बुझउवल

अपना भोजपुरी में पहेली के बुझउवल कहल जाला, बुझउवल से लइकन में सोचे के आ विश्लेषण करे के क्षमता बढ़ेला।हमरा पता बा की रउवा बुझउवल (भोजपुरी पहेली) पढ़ के राउर आपन लइकाइ जरूर मन पर जाइ, अच्छा लागल त शेयर आ लाइक जरूर करी।

भोजपुरी पहेली | बुझउवल
भोजपुरी पहेली | बुझउवल

भोजपुरी पहेली | बुझउवल

  1. करिया आँटी गइल अकास दाँते धइलन बाप तोहार।
  2. अत्थल पर पत्थल, पत्थल पर पइसा । बे पानी के घर बनावे, कारीगर कइसा ।।
  3. मुँह में आगि पेट में पानी । जे बुझे से बड़का गिआनी ।।
  4. जब-जब किला प नाक रगड़ब ऽ होखी खूब अँजोर।
  5. राजा के बेटा, नबाबे के नाती । सइ गज कपड़ा के बान्हेला गाँती ।।
  6. छोटी चुकी बिटिया, मारे कछिनियाँ। बड़े-बड़े मरदन के छुटेला पसेनियाँ ।।
  7. सावन फरे चइत गदराय । ताकर फर सुग्गो ना खाय ।।
  8. एक मुट्टी लाई अकास में छिटाई । ना बिनले बिनाई, ना गिनले गिनाई ।।
  9. आली के ढमढम, चाकर पतइआ ।। फरे के लद-फद फरि गइल मिठइआ ।।
  10. काजर अस कजरारी बेटी, अंगुर के सिंगार । बइठल बाड़ी पतरी डाढी, देखत बा संसार ।।
  11. सँउसे ताल में एक खरई
  12. अस्सी कोस के पोखरा, चउरासी कोस के घाट । बजर परो ओह पोखरा कि पंडुक पिआसल जास ।।
  13. राजा के बेटी रजमतिया नाँव । घँघरी पहिरि के बंजारे जाव ।
  14. खड़ा होखे के लुरिये ना धउरेलें जोर से ।
  15. तोहरा घरे गइलीं निकालि के बइठ रहलीं ।
  16. लाल गाय खर खाय । पानी पीये मर जाय ।।
  17. लरबरा के डाली टनटना के निकाली।
  18. लाली गइयो बड़ी मरखइया । ओकर दूधवा बेड़ी मिठइयो ।।
  19. कटोरा पर कटोरा ।बेटा बापो से गोरा ।।

बुझउवल के उतर

  1. तरकुल
  2. मकरा
  3. हुक्का
  4. दियासलाई
  5. पिआज
  6. बिच्छी
  7. बबूर
  8. तरेगन
  9. केरा
  10. जामुन
  11. चनरमा
  12. ओस
  13. मुरई
  14. साइकिल
  15. जूता
  16. आगी
  17. रोटी
  18. मध
  19. नारियल

भोजपुरी किताब अंजोर – कक्षा 7 के पाठ्यक्रम मे

इहो पढ़ीं: भोजपुरी बालगीत

Leave a Reply