लालू परिवार ने किया गलत व्यवहार : भोजपुरी हीरो खेसारी लाल यादव

भोजपुरी फिल्मो के स्टार लोकसभा चुनाव 2019 के रण में नजर आ रहे हैं, खेसारी लाल यादव इन दिनों दिल्ली से बीजेपी प्रत्याशी मनोज तिवारी के लिए प्रचार प्रसार कर रहे हैं। इस दौरान उन से हुई बात – चित में उन्होंने कहा की राजनीति और लालू यादव परिवार के लिए जमकर भड़ास निकाली। उन्होंने कहा कि लालू परिवार ने उनके साथ हमेशा से गलत व्यवहार किया है।

भोजपुरी हीरो खेसारी लाल यादव
भोजपुरी हीरो खेसारी लाल यादव

भोजपुरी हीरो खेसारी लाल यादव ने तेजस्वी यादव पर भी अपनी भड़ास निकाली, हालांकि उन्होंने कहा कि लालू यादव को मैं हमेशा से मानता हूं, उनकी इज्जत करता हूं, लेकिन लालू परिवार के लोगों के लिए मेरे दिल में कोई इज्जत नहीं है। उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव केवल जातिगत राजनीति के अलावा कुछ भी नहीं जानते हैं उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव से मैं काफी दुखी हूं. उन्होंने मेरे किसी भी संदेश का जवाब नहीं दिया।

मुझ पर पत्थर मारे गए लेकिन पत्थर मारने वालों को ही तेजस्वी यादव ने टिकट दे दिया। तेजस्वी यादव ने कभी मुझे अपना भाई ही नहीं समझा, तो फिर मैं क्यूं उन्हें समझूं।

भोजपुरी फिल्‍म ससुरा बड़ा पैसावाला के हुए 15 साल

लालू यादव की तबीयत कभी भी खराब होती थी तो खबर मिलते ही तुरंत पहुंचता था, लेकिन उनके परिवार वालों ने हमेशा मेरे साथ गलत व्यवहार किया है, उन्होंने बिहार में विकास नहीं होने की वजह लालू परिवार को ठहराया. उन्होंने कहा कि लालू यादव ने क्या काम किया यह उनके पिता बता सकते हैं, लेकिन लालू परिवार ने बिहार में केवल जाति की राजनीति की है।

बिहार के लोगों में जाति का जहर घोल दिया गया है, उन्होंने सवाल किया कि बिहार और यूपी में लालू और मुलायम के ही बच्चे क्यों मुख्यमंत्री बनते हैं। क्या यादवों में और कोई काबिल नहीं है, यह लोग जातिगत राजनीति कर यूपी-बिहार में हालत खराब कर दिया है, लोगों को जातिगत राजनीति से बचने की जरूरत हैं।

भोजपुरी हीरो खेसारी लाल यादव ने कहा कि एक बार फिर से पीएम मोदी को ही देश का प्रधानमंत्री बनना चाहिए, इसलिए मैं मनोज तिवारी के लिए प्रचार कर रहा हूं. उन्होंने मेरे जीवन में मनोज तिवारी का बहुत बड़ा कर्ज है, इसलिए उनके आदेश पर ही मैं कही भी गया हूं और उनके आदेश पर ही काम करूंगा। उन्होंने सभी लोगों से वोट डालने की अपील की और जातिगत राजनीति से दूर रहने की सलाह दी।

ध्यान दीं: भोजपुरी कथा कहानी, कविता आ साहित्य पढ़े खातिर जोगीरा के फेसबुक पेज के लाइक करीं

Leave a Reply