जनजागरण से बदलेगी भोजपुरी फिल्मो की तकदीर: सुजीत तिवारी

0
608

भोजपुरी फ़िल्म निर्माण व फाइनेन्स में अग्रणी कंपनी सी पी आई मूवीज के हेड सुजीत तिवारी का मानना है कि हाल के कुछेक बरसो में भोजपुरी फिल्मो की खराब हालात के लिए खुद भोजपुरी फिल्मो से जुड़े लोग ही जिम्मेवार हैं और इसकी हालत में तब ही सुधार सम्भव होगा जब दर्शको के बीच जन जागरण लाया जाये। सात फरवरी को रिलीज़ होने वाली फ़िल्म प्रतिज्ञा २ का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा की इस फ़िल्म की जानकारी दर्शको तक पहुचाने के लिए उन्होंने हिंदी कि बड़ी फिल्मे धूम ३ और जय हो का सहारा लिया और इन फिल्मो के साथ अपनी फ़िल्म का ट्रेलर रिलीज़ किया। इसी का नतीजा यह है की आज बिहार के सिनेमा हॉल मालिको में इस फ़िल्म का जबर्दस्त क्रेज़ है और वो वितरक को मुहमांगी रकम दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि पब्लिसिटी फ़िल्म का एक अहम् पार्ट होता है लेकिन भोजपुरी फिल्मो के निर्माता इस तरफ ध्यान नहीं देते हैं। दुःख की बात तो यह है कि कई फिल्मे रिलीज़ हो जाती है और दर्शको को पता ही नहीं रहता है। उन्होंने भोजपुरी फिल्मो के निर्माता निर्देशको से अपील की है कि वो उस हर माध्यम का इस्तेमाल करे जिस से दर्शको को अच्छी बुरी फिल्मो के बारे में पता चले। महिलाओं द्वारा भोजपुरी फिल्मो से मुह मोड़ लेने के सम्बन्ध में उन्होंने कहा कि कुछ गन्दी फिल्मो की वजह से पूरी भोजपुरी फिल्मो को गन्दी फिल्मो कि संज्ञा दे दी गयी है , जिसका खामियाजा अच्छी फिल्मो को भी उठाना पड़ता है। ऐसे में अच्छी फ़िल्म बनाने वाले निर्माताओं को चाहिए की वो अपनी फ़िल्म के बारे में दर्शको को जागृत करे।

जनजागरण से बदलेगी भोजपुरी फिल्मो की तकदीर: सुजीत तिवारी

एह पोस्ट पऽ रउरा टिप्पणी के इंतजार बा।

Please enter your comment!
Please enter your name here

five + three =