अँगना में दू माँगना

0
125

न्यायमुक्त व्यवहार के अभाव। एक आँगन में रहे वाला आदमी केहु के एगो माँग पूरा करे आ दोसरा के दू गो पूरा करे त आइसन मलिक के बेईमान कहल जाला, जेकर व्यवहार दू रंग के होला। दू माँगना माने दू नज़र से देखल।

एह पोस्ट पऽ रउरा टिप्पणी के इंतजार बा।

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 + twelve =