जम गए विनय आनंद

0
74

जी हा दोस्तो, शुभ समाचार है भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री भी आंतरस्त्रीय क्रिकेट के मेदान के तरह ही है। और इस मैदान के पीच पर जो जम जाए वही हीरो है, स्टार है। भोजपुरी फिल्म रूपी क्रिकेट टीम मे भी कई खिलाड़ी अपने अपने खेल का प्रदर्शन कराते है। क्रिकेट रूपी दर्शको के सामने जो ठहर गया वो हीरो बाकी ज़ीरो। आपको बताते चले की इस सप्ताह क्रिकेट के मैदान रूपी सिनेमा घरो मे नायक रूपी खिलाड़ी विकेट रूपी दर्शको के सामने अपने अभिनय रूपी खेल का प्रदर्शन कर रहे है। बताया तो यही जा रहा है की शुद्ध अभिनेता विनय आनंद अपने ‘बिहारी रिक्शावाला’ रूपी बेट से विकेट रूपी दर्शको के ताली और सिटी रूपी बोल से खूब चौका , छक्का दाग रहे है। यानि भोजपुरी फिल्म रूपी क्रिकेट मैदान के पीच पर जम गए है। भोजपुरी फिल्मों के जानेमाने अभिनेता विनय आनंद! इस सप्ताह भोजपुरी फिल्मों के रुपहले पर्दे पर रिलीस फिल्मों मे ‘बिहारी रिक्शावाला’ का नाम बड़े ही ज़ोर शोर से लिया जा रहा है।

इस फिल्म को माननीय दर्शको का अपार स्नेह ,प्यार व आशीर्वाद मिल रहा है। जानकार सूत्रो ने बताया की विनय आनद तकरीबन 60 से ज्यादा फिल्मों मे अपने अभिनय का जलवा बिखेरा है और भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री मे अपना स्थान बनाए रखे है। एक शुद्ध अभिनेता की हसीयत से अपने कामो को बखूबी अंजाम दे दे रहे है। विनय आनद इस अवधारणा को तार तार करने मे भी सफलता पाये है की भोजपुरी गायक ही नायक हो सकता है। यदि एसा होता तो विनय आनंद जैसे शुद्ध अभिनेता की हाल ही मे रिलीस ‘दबंग दामाद ,खूनी दंगल, दामाद चाहिए फोकट मे और इस सप्ताह रिलीस ‘बिहारी रिखसवाला’ अपने सफलता की परचम नहीं लहराती और विनय आनंद एक अभिनेता के रूप मे भोजपुरी इंडस्ट्री मे हिमालय के तरह सीना ताने खड़े न होते। घर घर मे लोकप्रिय हो चुके वियनय आनंद अपने काम के प्रति ईमानदारी, इतनी सादगी, अनुशासन, कुशल व्यवहार सब को प्रभावित करती है। अब एक तरफ ‘बिहारी रिक्शावाला’ बिहार मे सफलता की इतिहास रच रही है। वही ‘बिहारी टाइगर’ रिलीस होने वाली है। ‘बिहारी रिक्शावाला’ भोजपुरी फिल्म की सफलता पर तो बस हम यही कहेंगे – भाई, जम गए विनय आनंद ।

एह पोस्ट पऽ रउरा टिप्पणी के इंतजार बा।

19 − 6 =