मैं भोजपुरी से प्यार करता हूं उसका व्यापार नही : धनन्जय सिंह

भोजपुरी के बढ़िया वीडियो देखे खातिर आ हमनी के चैनल सब्सक्राइब करे खातिर क्लिक करीं।

पेशे से एक पत्रकार हूँ और भोजपुरीभाषी भी, भोजपुरी से प्यार करता हूं,इसलिए पिछले एक दशक से भोजपुरी में फूहड़ता का विरोध करता रहा हूँ। इसके एवज़ में भोजपुरी इन्डस्ट्री के कुछ लोग मुझे समय समय पर गाली और धमकी देते रहे हैं और आज भी दे रहे हैं और ये सब जान बूझकर कराया जा रहा है। फ़ेसबुक पर तमाम फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी जा रही है, ताकि लोग मुझसे जुड़कर मुझे गाली और धमकी दे सकें,  मेसेंजर पर भी मुझे गालियां दी जा रही हैं। यहां तक कि रानी चटर्जी की उस पोस्ट पर भी कुछ लोगों ने गाली दी है, जिस पर मेरी आई डी का स्क्रीन शॉट डालकर रानी ने मुझ पर अनर्गल आरोप लगाए हैं। जबकि मैं आज तक रानी से ना मिला हूँ, ना मेरा निजी तौर पर उनसे कुछ लेना देना है ना ही व्यावसायिक तौर पर, भोजपुरी फ़िल्मों और गीत संगीत को फूहड़ बनाने में उनकी कितनी सहभागिता है, इसे यू ट्यूब से जाना जा सकता है।

धनन्जय सिंह
धनन्जय सिंह

मैं भोजपुरी के अश्लील और आपत्तिजनक पोस्टर, ट्रेलर, गीत आदि को जब भी देखता हूं, तो उसकी समीक्षा करता रहता हूँ, और ये बात भोजपुरी इन्डस्ट्री के कुछ लोगों को हमेशा खलती रहती है. इसलिये मुझे लोग गाली और धमकी दिया करते हैं और इस बार भी यही किया जा रहा है।

रानी की मैक्स प्लेयर पर हालिया रिलीज बेहद अश्लील वेब सीरीज ‘मस्तराम’ में उनके द्वारा किए गए निहायत घटिया काम की चौतरफा आलोचना हुई है। सोशल मीडिया में हो रही ये आलोचना जब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तक पहुंची, तो उन्होंने उसी समय किसी का भी नाम न लेते हुए भारत सरकार को मजबूर होकर पत्र लिखा कि अब वेब सीरीज को सेंसर के दायरे में लाया जाना चाहिए।

अश्लीलता में आकंठ डूबने और ग्रुपबाजी के कारण भोजपुरी इन्डस्ट्री गर्त में जा चुकी है, पिछले चार पांच सालों से किसी भोजपुरी का हिट ना होना इसके लिए और दुखदायी बन चुका है, क्योंकि कोई भी सभ्य व्यक्ति अपने परिवार के साथ थिएटर में नहीं जाता।
जिससे फ़िल्में बुरी तरह से पिट जाती हैं. ऊपर से लॉक डाउन ने सभी के स्ट्रेस को बढ़ा दिया है, ऐसे में जब सरकार ने TikTok को बैन कर दिया तो लोग और भी बौखला गए। शायद रानी चटर्जी भी उससे अछूती नहीं रह गईं और अपना फ्रस्ट्रेशन मुझ पर निकालने की कोशिश कर रही हैं, जबकि मैंने उनके लिए अलग से कोई पोस्ट नहीं लिखी है और ना ही लिखता हूँ. जो भी पोस्ट लिखता हूँ, सामान्य दृष्टि से ही लिखता हूं, अब अगर वो किसी पोस्ट से खुद को रिलेट कर लेती हैं तो इसमें मेरा क्या दोष और हां, मेरी पोस्ट पर आकर अन्य लोग कमेंट करते हैं तो मैं क्या कर सकता हूं, फिर भी अपने फर्ज का निर्वाह करते हुए मैं लोगों के अभद्र कमेंट को डिलीट करता रहता हूँ. अलग से पोस्ट लिखकर भी कहता हूं कि कोई किसी को अभद्र कुछ भी न कहे।

रानी शायद भूल गईं कि एक बार विदेश में आयोजित एक अवॉर्ड शो में जब उन्हें नहीं बुलाया गया था, तब मैंने उस शो की विश्वसनीयता पर प्रश्नचिन्ह लगाते हुए कहा था कि रानी को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता. तब रानी ने मुझे फोन करके थैंक्स कहा था. और यह भी कहा था कि सच लिखने वाले ऐसे पत्रकारों की हमें सख्त जरूरत है। रानी की आने वाली एक फिल्‍म ‘पांचाली’ का पोस्टर रिलीज हुआ है. दुनिया को पता है कि महाभारत में द्रौपदी का एक नाम पांचाली भी था और पांचाली का किरदार करोड़ों लोगों की आस्था से जुड़ा हुआ है. बावजूद इसके जो पोस्टर रिलीज किया गया है, उसे शालीन तो नहीं ही कहा जा सकता, अब उस पर लोग कमेंट कर रहे हैं, तो भोजपुरी के लोगों को विचार करना चाहिए कि धार्मिक किरदारों को न भुनाने की कोशिश ना करें।

बहरहाल पब्लिक द्वारा की गई आलोचना से घबराई रानी ने मेरी तस्वीर लगाकर जो मेरी प्रतिष्ठा को धूमिल किया है, वो कानून की दृष्टि से असंवैधानिक है. आप किसी की तस्वीर लगाकर इस तरह से कैसे अनर्गल आरोप लगा सकती हैं? बे‍हतर होगा कि एक सीनियर आर्टिस्ट का फर्ज निभाते हुए कुछ ऐसी फ़िल्में करें, जिससे समाज को कुछ अच्छा संदेश जाए।

भोजपुरी इन्डस्ट्री कितने गंभीर दौर से गुजर रही है, इसका अंदाजा एक सप्ताह पहले लाइव हुई एक भोजपुरी अदाकारा सुप्रिया चौबे की बातों से लगाया जा सकता है. उन्होंने साफ़ साफ़ कहा था कि भोजपुरी इन्डस्ट्री में लड़कियों का दैहिक शोषण किया जा रहा है. इस वजह से तमाम योग्य कलाकारों को काम नहीं मिल पा रहा है और लोग फ्रस्ट्रेशन का शिकार हो रहे हैं…

मुझे पता है कि रानी के साथ कई पी आर ओज जुड़े हैं और मीडिया में वो अपनी पहुंच रखते हैं. उसी पहुंच का इस्तेमाल कर मेरे खिलाफ झूठमूठ की बातें प्रचारित कर मेरी छवि को ठेस पहुंचाने का काम किया जा रहा है, मीडिया का फर्ज बनता था कि वो मेरा भी पक्ष जानने की कोशिश करे, लेकिन उसने ऐसा नहीं किया. मुझे गाली और धमकी दी जा रही है. ऐसे में अगर मेरे साथ कोई भी घटना घटती है या मुझ पर कोई हमला होता है तो इसके लिए जिम्मेदार रानी चटर्जी होंगी। मैं इस बात को @mumbaipolice के संज्ञान में लाना चाहता हूं। मुंबई पुलिस से मेरा निवेदन है कि वो मेरी आई डी चेक कर यह देखे कि मैंने रानी चटर्जी का नाम लेकर या उनकी तस्वीर का इस्तेमाल कर कहाँ और उनके बारे में क्या गलत कहा है।

अंत में रानी चटर्जी से कहना चाहूँगा कि अगर उनको लगता है कि मैं ये सब करने से डर जांगा तो ये उनकी भूल है। कानून सबको अभिव्यक्ति की आजादी देता है और कानून सबके लिए बना है. मैंने आपका कहीं जिक्र तक नहीं किया और आपने मेरा नाम, मेरी तस्वीर सबका इस्तेमाल कर डाला, शायद आपको इस बात का एहसास नहीं कि आपके खिलाफ कानूनकार्रवाई हो सकती है. और आपने विवश कर दिया है. उम्मीद है कि आप इसकी संगीनता को समझेंगी और आगे से कुछ ऐसी फ़िल्में करेंगी, जिनसे समाज को मार्गदर्शन मिले…


भोजपुरी के कुछ उपयोगी वीडियो जरूर देखीं

जोगीरा डॉट कॉम पऽ भोजपुरी पाठक सब खातिर उपलब्ध सामग्री

ध्यान दीं: भोजपुरी न्यूज़ ( Bhojpuri news ), भोजपुरी कथा कहानी, कविता आ साहित्य पढ़े  जोगीरा के फेसबुक पेज के लाइक करीं।

Leave a Reply